• Smrita Saini posted an update in the group Group logo of HistoryHistory 5 months, 3 weeks ago

    द्वितीयक स्रोत क्या है ?

    • द्वितीयक स्रोत किसी ऐसे व्यक्त का सबूत होता है , जो घटना की घटना के समय मौजूद नही होता है | द्वितीयक स्रोत प्राथमिक स्रोत पर निर्भर होता है | उदाहरण के लिए देखा जाये तो किसी इतिहासकार द्वारा लिखी गयी पुस्तके | इतिहासकारों के लिए द्वितिक स्रोत भी ऐतिहासिक महत्व है |